Monday, April 15, 2024
HomeCrimeराजस्थान में 6 महीने की मासूम सहित 4 को मारकर जलाया, सामूहिक...

राजस्थान में 6 महीने की मासूम सहित 4 को मारकर जलाया, सामूहिक हत्याकांड से हड़कंप, पुलिस ने ताऊ के बेटे को हिरासत में लिया

जोधपुर। जिले के ओसियां क्षेत्र के एकलखोरी के चौराइ गांव में आपसी रंजिश के चलते एक ही परिवार के 4 लोगों की हत्या कर शव जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। हत्यारों ने परिवार की 6 महीने की मासूम को भी नहीं छोड़ा बुधवार सुबह चारों के शव घर के आंगन में जले हुए मिले। घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीण एसपी धर्मेंद्र यादव भी घटनास्थल पर पहुंचे है। वहीं जोधपुर जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता भी मौके पर पहुंचे हैं।

आशंका जताई जा रही है कि घर में सो रहे एक ही परिवार के चार सदस्यों की हत्या कर आग लगाई गई है। मरने वालों में दो महिलाएं, एक बच्ची और एक पुरुष है। सभी के शव एक झोपड़ी के जले हुए मिले हैं। सूचना के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई है। ग्रामीण एसपी धर्मेंद्र सिंह यादव और जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता भी मौके पर पहुंच गए हैं।  

जोधपुर ग्रामीण एसपी धर्मेंद्र यादव ने बताया कि चेराई  चौकी के अंतर्गत रामनगर गांव में झौपड़ी में 4 जले शव होने की सूचना पर टीम मौके पर पहुंची।  मामले की गंभीरता को देखते हुए आला अधिकारी और जिला कलेक्टर भी मौके पर पहुंचे हैं। मौके पर पहुंची पुलिस की टीमों ने साक्ष्य जुटाए हैं। मामला हत्या का लग रहा है। परिजन घटना से जुड़ी रिपोर्ट दे रहे हैं। जिस पर अनुसंधान किया जा रहा है।

एसपी ने कहा-एफएसएल टीम ने मौके से सबूत इकट्ठा किए हैं। प्रथम दृष्टया देखने पर हत्या करने के बाद जलाने का मामला नजर आ रहा है। लेकिन एफएसएल की रिपोर्ट और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पूरा खुलासा हो पाएगा।

ताऊ के बेटे को हिरातस में लिया
पुलिस ने इस मामले में मृतक के ताऊ के बेटे पप्पू राम को हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि जमीनी विवाद और आपसी रंजिश के चलते सामूहित हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। पहले चारों की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या की गई थी। बाद में  सभी के शवों को आग लगा दी गई।

सरकार कुर्सी बचाने और वापस लाने में व्यस्त
इस सामूहिक हत्याकांड को केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पिछले साढे 4 साल में अपराधी बेखौफ हैं। सरकार केवल कुर्सी बचाने में और कुर्सी वापस लाने में व्यस्त है। घटना का पता चलते ही मेरी ग्रामीण एसपी से बात हुई है। पुलिस का कहना है कि हत्या करने के बाद  चारों शवों को जलाया गया है। मामले की निष्पक्ष जांच हो, ऐसे आरोपियों को कठोर सजा दी जानी चाहिए। मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मीडिया से बातचीत में कहा- हम पिछले साढे 4 साल से कह रहे हैं कि अपराधी बेखौफ हैं। सरकार केवल अपनी कुर्सी और सरकार बचाने में मशगूल है। गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा मासूम बच्ची को भी जला जला दिया गया जिसका कोई दोष नहीं था, उसने जीवन की शुरुआत की थी।  

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments