Sunday, April 21, 2024
HomeEntertainmentमुस्कुराने का सेहत से सीधा संबंध हैः रक्षा छाजेड

मुस्कुराने का सेहत से सीधा संबंध हैः रक्षा छाजेड

जीवन के लिये बहुत जरूरी है इससे न केवल चेहरे की सुंदरता में चार चाँद लगते है साथ ही दिल की धड़कन भी सामान्य रहती हैं। हँसने की आदत कई बीमारियों से बचाती है यह शरीर मी बूस्टर की तरह कार्य करती है जिससे तनाव कम होता है अतः कहा जा सकता है कि मुस्कुराने का सेहत से सीधा संबंध है। यह बात जीतो बैंगलुरु नार्थ की महिला विंग द्वारा शेषाद्रिपुरम स्थित ग्लोबल स्विम एसोसियेशन में खुशहाल जीवन पर आयोजित जुंबा -झूम बराबर कार्यक्रम में प्रशिक्षक रक्षा छाजेड ने कही।

उन्होंने कहा कि मुस्कुराने से सकारात्मकता एवं आत्मविश्वास बढ़ता है फिर भी केवल 30% लोग ही दिन भर में 20 बार मुस्कुराते है। उन्होंने कहा कि हंसने से शरीर में एंडोर्फिन हार्मोन बनता है जिससे तनाव कम होता है और ऐसे हार्मोन के रिलीज होने से खुशी का अनुभव होता है दर्द का ऐहसास कम होता है। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को हंसने की थेरेपी भी करवाई। दूसरे सत्र में टीम स्प्लैश की प्रशिक्षक ने बताया कि एक्वा जुंबा हमारी बॉडी की बढ़ाता है और साथ ही हमे और फिट रखता है।

यह एक मजेदार फिटनेस फॉर्म है जो कि का मजेदार डांस वर्कआउट है, जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी मशहूर है और लाइफस्टाइल की तरह बनने की दिशा में बढ़ते जा रहा है। ट्रेनर ने सभी को संगीत की धुन पर जुंबा एक्सरसाइज का प्रशिक्षण दिया। तीन बेच और दो-दो सत्रों में आयोजित इस कार्यक्रम का शुभारम्भ नवकार मंत्र से हुआ। अध्यक्ष बिन्दु रायसोनी ने सभी का स्वागत किया। जीतो नॉर्थ महिला मेंटर निशा सामर ने मुस्कुराहट पर टिप्स दिये। नार्थ सचिव व महिला विंग संयोजक कमल पुनमिया एवं महिला उपाध्यक्ष रेश्मा पुनमिया का पूर्ण सहयोग रहा।

रक्षा छाजेड का परिचय रेश्मा पुनमिया एवं टीम स्प्लैश का परिचय उपाध्यक्ष लक्ष्मी बाफना ने दिया। सह-संयोजिका मीना बरलोटा ने संचालन किया। दीपू जैन, रूपाली चोपड़ा, मनीषा दोषी, सोमना सिसोदिया, खुशबू वेदमुथा, लता जैन, मनीषा दोषी, साधना धोका, सुर्यकला सियाल का सहयोग रहा। लगभग सौ सदस्यों की उपस्थिति रही ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments