Sunday, May 12, 2024
HomePoliticalमानवेंद्र सिंह बोले-रूपाला माफी मांगें, उनके बयान से आक्रोश:कहा-आक्रोश शांत करना मंत्री...

मानवेंद्र सिंह बोले-रूपाला माफी मांगें, उनके बयान से आक्रोश:कहा-आक्रोश शांत करना मंत्री की जिम्मेदारी, मुझे दुख और आश्चर्य है कि इतनी ढील कैसे हुई

जोधपुर/जयपुर :  केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला के बयान पर राजपूत समाज में नाराजगी के मुद्दे पर बीजेपी में डैमेज कंट्रोल की कोशिश की जा रही है। इस बीच, हाल ​ही में कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए वरिष्ठ नेता मानवेंद्र सिंह ने पुरुषोत्तम रूपाला के बयान को गलत बताते हुए उन्हें माफी मांगने को कहा है। मानवेंद्र सिंह सिंह के इस बयान को सियासी हलकों में काफी अहम माना जा रहा है।

मानवेंद्र सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा- सार्वजनिक जीवन में व्यक्ति चाहे किसी पद पर हो, किसी जगह पर हो, उस व्यक्ति को किसी भी समाज पर ऐसी टिप्पणी करना शोभा नहीं देता। इतने सीनियर केंद्रीय मंत्री रहकर रूपाला के मुंह से ऐसी बात निकली है, मुझे बड़ा दुख और आश्चर्य हुआ कि इतनी ढील कैसे हो गई? यह चैलेंज हम सबके लिए है कि हम अपनी जुबान पर लगाम रखें और देश में भाईचारे का वातावरण बनाने ऐसी बातें नहीं कहें।

मानवेंद्र सिंह ने कहा- बयान से लोगों में आक्रोश है और इस आक्रोश को शांत करना रूपाला की जिम्मेदारी है। उन्होंने जो कहा- वो गलत है। वो इतने सीनियर व्यक्ति हैं, पता नहीं उनके मन में क्या बात थी, ऐसी बात करने की आवश्यकता क्या थी? वो हमारे यहां सम्मेलन में आए थे, उस दिन बहुत अच्छा बोले थे, अब पता नहीं क्या हुआ, उनको स्पष्ट करना चाहिए और माफी मांगनी चाहिए।

मानवेंद्र सिंह ने कहा- राजस्थान के लोगों में नाराजगी है। स्वाभाविक है कि उनका बयान माहौल खराब कर रहा है। जिस व्यक्ति का बयान माहौल खराब करे, उस व्यक्ति को ही सुधार करने के लिए आगे आना चाहिए। मैंने सीएम से बात की है, वो यह बात ऊपर तक पहुंचाएंगे। उनके पास स्टेट की जिम्मेदारी है और स्टेट में वातावरण को सुधारना है तो कुछ तो करेंगे।

बयान से राजपूत नेताओं में आक्रोश
पुरुषोत्तम रूपाला ने गुजरात में राजपूत राजाओं और अंग्रेजों को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया था। इस बयान को लेकर देशभर में राजपूत संगठन विरोध जता रहे हैं। लोकसभा चुनावों के बीच दिए गए बयान से सियासी लामबंदी शुरू हो गई। गुजरात में राजपूत संगठनों ने बड़े विरोध प्रदर्शन किए और गिरफ्तारियां दी। सोशल मीडिया पर राजपूत समाज के लोग अब भी आक्रोश जता रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने अपने बयान पर माफी भी मांगी, लेकिन राजपूत समाज में उनके खिलाफ नाराजगी है।

रूपाला के बयान पर डैमेज कंट्रोल की कोशिश
रूपाला के बयान से सियासी नुकसान होता देख बीजेपी ने डैमेज कंट्रोल शुरू किया है। बीजेपी के रणनीतिकारों के पास यह फीडबैक पहुंचा है कि रूपाला के बयान से राजपूत समाज का आक्रोश सियासी नुकसान कर सकता है। राजपूत समाज शुरू से बीजेपी का कमिटेड वोट बैंक रहा है, ऐसे में इस मुद्दे पर नाराजगी का असर लोकसभा चुनावों में हो सकता है। इस फीडबैक के बाद अब डैमेज कंट्रोल शुरू किया है।

रूपाला से माफी की मांग करने वाले मानवेंद्र पहले बीजेपी नेता
मानवेंद्र सिंह का बयान बाकी के बीजेपी नेताओं से अलग माना जा रहा है। अब तक बीजेपी के राजपूत नेता रूपाला का बचाव करते दिख रहे थे, लेकिन मानवेंद्र सिंह ने रूपाला के बयान को साफ शब्दों में गलत करार देकर माफी मांगने को कहा है।

रविंद्र सिंह भाटी के परिवार से तीन पीढ़ी के संबंध हैं वो तो रहेंगे
रविंद्र भाटी के बड़ा भाई बताने पर मानवेंद्र सिंह ने कहा कि रविंद्र और हमारे तीसरी पीढ़ी के पारिवारिक संबंध हैं, वह भी कहेगा, मैं भी कहूंगा। जो संबंध हैं, वह तीसरी पीढ़ी के संबंध हैं। वो संबंध तो हमेशा रहेंगे,वह कभी जा नहीं सकते।

बाड़मेर-जैसलमेर के चुनाव पर मानवेंद्र सिंह ने कहा कि नवरात्रि व्रत के दौरान नागाणा में काफी लोगों से मुलाकात हुई। उनमें रविंद्र के भी समर्थक थे और भाजपा कांग्रेस के लोग भी मिले थे। बाड़मेर सीट पर टक्कर है। अभी तो सप्ताह भर है, देखते हैं क्या होता है ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments