Monday, April 15, 2024
HomeCrimeAccidentबेंगलुरु में बीच सड़क पर धू-धू कर जली ये Electric Car, आग...

बेंगलुरु में बीच सड़क पर धू-धू कर जली ये Electric Car, आग से बचाने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

बेंगलुरु: सोशल मीडिया पर अक्सर कई तरह की वीडियो वायरल होती रहती हैं। कई वीडियो काफी अजीब होती हैं और कई बार कुछ वीडियो आपको डरा देती है। ऐसी ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर एक वीडियो छाई हुई है, जिसमें एक इलेक्ट्रिक कार (Electric Car) आग से बुरी तरह से घिरी हुई है और धू-धू कर जल रही है। वीडियो में सफेद रंग की दिखने वाली इलेक्ट्रिक कार की जलने वाली वीडियो कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु की बताई जा रही है। आगे जानें पूरी जानकारी

देखें वायरल वीडियो में क्या है

ये वीडियो बेंगलुरु के जेपी नगर एरिया के डालमिया सर्कल की बताई जा रही है। वीडियो में दिख रहा है कि एक इलेक्ट्रिक कार बीच सड़क पर बेहद ही खराब स्थिति में जल रही है। वीडियो में नजर आ रहा है कि एक ट्रैफिक पुलिस कर्मी आसपास खड़ी भीड़ को दूर रहने को कह रहा है। सड़क पर जल रही इलेक्ट्रिक कार की वजह से रोड पूरी तरह से बंद हो चुका है। यातायात पूरी तरह से रोक दिया गया है। देखें वीडियो

आखिर क्यों लगती है इलेक्ट्रिक कार में आग

आपको बता दें कि इलेक्ट्रिक कार में लिथियम ऑयम बैटरी होती है। ये बैटरी एनोड, केथोड, सेपरेटर, इलेक्ट्रोलाइट और दो करंट कलेक्टर के साथ काम करती है। लिथियम ऑयम बैटरी में हाई एनर्जी होती है। इसकी बैटरी कई तरह के कंट्रोल नहीं कर पाती है, जब आग लगती है। इसमें शॉर्ट सर्किट का होना बड़ा कारण है। कार की बैटरी के सेल की क्वॉलिटी, बैटरी डिजाइन, बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम, सेंसिंग और सॉफ्टवेयर इंटेलीजेंस सिस्टम और सेल्स का मैनेजमेंट सिस्टम आग लगने का प्रमुख कारण हो सकते हैं। जब भी इनमें कनेक्शन नहीं बनता है तो इलेक्ट्रिक कार की बैटरी में आग लग जाती है। हालांकि, इलेक्ट्रिक कार में आग लगने के कई और अन्य कारण भी हो सकते हैं।

इलेक्ट्रिक कार को आग से बचाने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

इंसानों की तरह ही इलेक्ट्रिक कार पर भी अधिक सर्दी और ज्यादा गर्मी का असर होता है। ऐसे में सर्दी और गर्मी का असर कार के उपकरणों पर सीधा पड़ता है। इससे कार की बैटरी पर प्रभाव पड़ता है। बदलते मौसम के साथ ही आपको इलेक्ट्रिक कार का ध्यान रखना चाहिए।

इलेक्ट्रिक कार में कभी भी ओवरलोडिंग न करें। ऐसा करने से इसकी इलेक्ट्रिक मोटर पर असर पड़ता है। कार पर अधिक लोड पड़ने से कार की बैटरी और मोटर गर्म हो सकती है, जिससे कार में आग लग सकती है।

इलेक्ट्रिक कार में कभी भी नकली उपकरणों का और लोकल पार्ट्स का इस्तेमाल न करें। इससे कार की क्षमता पर असर होता है। साथ ही बैटरी और मोटर भी इससे प्रभावित हो सकती है। ईवी कार में हमेशा असली उपकरणों का ही इस्तेमाल करें।

इसके अलावा इलेक्ट्रिक कारों को रख-रखाव की अधिक जरूरत होती है। ईवी कार में काफी अधिक मात्रा में तार होती हैं, जिस वजह से इन तारों का ख्याल रखना होता है, इसलिए ईवी कारों की समय-समय पर सर्विसिंस करवानी चाहिए।

इस बात का रखें ध्यान

ऐसे में केंद्रीय परिवहन मंत्रालय ने अचानक से आग लगने वाले इलेक्ट्रिक वाहनों के जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही ऐसी लापरवाही बरतने वाली ईवी कंपनियों पर भारी जुर्माना लगाने का ऐलान किया है। किसी भी इलेक्ट्रिक कार को खरीदने से पहले उसकी बैटरी की अच्छी से जांच कर लें। ऐसा करने के लिए आप कार में लगी बैटरी की गुणवत्ता के बारे में अच्छे से जानकारी जुटाकर कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments