Sunday, April 21, 2024
HomeCrimeबिहार के किशनगंज में 2 मंदिरों में लगी आग, असामाजिक तत्वों पर...

बिहार के किशनगंज में 2 मंदिरों में लगी आग, असामाजिक तत्वों पर आरोप; पुलिस फोर्स तैनात

बिहार में किशनगंज जिले के मस्तान चौक के पास शनिवार देर रात भीषण आग लग गई। इस हादसे में कई दुकानों के साथ-साथ दो मंदिर भी जल गए। घटना के बाद से इलाके में तनाव है, जिसे देखते हुए मौके पर पुलिस बल भी तैनात किया गया है। वहीं, मंदिर जल जाने से नाराजगी दिखाते हुए लोगों ने सड़क को जाम कर प्रदर्शन किया। हालांकि कुछ घंटों के बाद लोगों ने शांत होने पर सड़क को खाली कर दिया।

जानकारी के अनुसार, कोचाधामन थाना क्षेत्र के मस्तान चौक के पास बीती देर रात्रि भीषण आग लग गई। ऊंची लपटों को देख स्थानीय लोगों ने आग को बुझाने की कोशिश की। मगर आग की लपटें और तेज होती गईं। उसके बाद लोगों ने आनन-फानन में दमकल विभाग और पुलिस को उक्त घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची दमकल की टीम ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया है। मगर तबतक आग ने कई दुकानों और हनुमान मंदिर तथा दुर्गा मंदिर को जलाकर राख कर दिया।

आग लगने के कारण का पता नहीं चल पाया
उक्त घटना पर कोचाधामन थाना अध्यक्ष आरिज अहकाम ने बताया कि आग की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया गया है। लेकिन अब तक आग लगने का कारण पता नहीं चल पाया है। साथ ही मामले की जांच की जा रही है।

लोगों ने की जांच की मांग
आग की घटना में दोनों मंदिरों के जल जाने पर लोगों ने काफी नाराजगी जताई है। साथ ही लोगों ने प्रशासन से उक्त घटना की उचित जांच की मांग की है। मंदिर जलने से भड़के लोगों ने सड़क को घंटों तक जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रशासन ने यहां पुलिस बल की तैनाती बरकरार रखी। वहीं, अब लोगों ने शांत होने पर सड़क को खोल दिया है।

सड़क पर वाहनों की लगी लंबी कतार 

स्थानीय लोगों के आक्रोश और हंगामा के बीच सड़क पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। लोगों का हंगामा और आक्रोश को देखते हुए कई थानों की पुलिस और वरीय अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। लोगों ने 24 घंटे में दोषियों की गिरफ्तारी करने, प्रशासन की देखरेख में सरकारी खर्च से मंदिर का पुनर्निर्माण कराने, मूर्ति स्थापित कराने, मंदिर में सीसीटीवी कैमरा एवं लाइट लगाने की मांग की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments