Monday, April 15, 2024
HomeCrimeदिल दहलाने वाली तस्वीर बहन का शव पीठ पर बांधा और बाइक...

दिल दहलाने वाली तस्वीर बहन का शव पीठ पर बांधा और बाइक से ले गया युवक; 15 मिनट तक हर कोई देखता रहा नजारा

UP News : उत्तरप्रदेश के औरैया जिले से स्वास्थ्य सेवाओं की धज्जियां खोलता हुआ एक वीडियो वायरल हुआ है जो देखने वालों के दिल को दहला देने वाला है। वीडियो में एक भाई अपनी बहन का शव बाइक पर अपने कंधे पर दुपट्टे से बांधकर  अस्पताल से घर को वापस ले जा रहा है।और उसके परिजन उस निर्जीव बेटी के शव को किसी तरह से बाइक पर बैठाने की कोशिश कर रहे हैं…लेकिन अस्पताल ने शव को ले जाने के लिए एंबुलेंस तक की व्यवस्था नहीं कराई । दिल को दहला देने वाली इस मार्मिक घटना को लोग देखते रहे। ये वीडियो मानवीय संवेदनाओं को झिंझोड़ने वाला है।

अस्पताल में एंबुलेंस तक की नहीं मिली सुविधा

यह घटना औरैया जिले के नवीन बस्ती की है । वीडियो में भाई  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने ही अपनी बहन के शव को बाइक पर ले जाने की कोशिश कर रहा है और इस दुख की घड़ी में उनके पास किसी ने एक एंबुलेंस या कोई गाड़ी तक की व्यवस्था नहीं कराई।  बिधनू में सीएचसी परिसर में एक युवक को बहन का शव पीठ पर बांधकर बाइक से घर ले जाना पड़ा। लेकिन किसी ने एंबुलेंस या शव घर ले जाने के लिए किसी साधन का इंतजाम नहीं किया. क्या जिले में इतनी बदतर व्यवस्था है अस्पताल की दुर्दशा इसी से पता चलती है कि इस गंभीर स्थिति में वह एक एंबुलेंस तक मुहैया नहीं करा सके।

करंट लगने से हुई थी युवती मौत, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  की दुर्दशा की पोल खुली

जानकारी के मुताबिक  औरैया जिले निवासी नवीन बस्ती की प्रताप सिंह की 20 वर्षीय पुत्री अंजलि ,बिजली की पानी की राड को छूने से बेहोश हो गई थी उसे औरैया अस्पताल में ले जाया गया ,लेकिन उसकी  जान नहीं बच सकी। विडंबना तो यह है कि अस्पताल उन्हें शव को  वापस घर ले जाने के लिए एंबुलेंस तक मुहैया नहीं करा सका। बाबूराम मोहनलाल महाविद्यालय के पास नवीन बस्ती पश्चिमी में रहने वाली अंजलि नहाने के लिए पानी गर्म करने के लिए कमरे में गई।  उसका गर्म पानी करने के लिए बाल्टी में हाथ रोड से छू गया और वह करंट की चपेट में आ गई.। परिजन ने जब बाल्टी के पास अंजलि को बेहोश पड़ा देखा तो वो उसे लेकर सीएचसी पहुंचे। जहां मौजूद चिकित्सक ने अंजलि को मृत घोषित कर दिया। युवती की मौत के बाद परिजन बिलख पड़े। और बिना पोस्टमार्टम के ही वह अपनी बेटी को इस अवस्था में वापस ले गए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments