Tuesday, July 16, 2024
HomePoliticalआदिवासियों के DNA टेस्ट को लेकर मदन दिलावर के बयान पर डोटासरा...

आदिवासियों के DNA टेस्ट को लेकर मदन दिलावर के बयान पर डोटासरा ने दिलावर को बताया नमूना

राजस्थान में कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भजनलाल सरकार और शिक्षा मंत्री मदन दिलावर  पर निशाना साधा है। टोंक से कोटा जाते समय पीसी चीफ मीडिया से रूबरू हुए, जहां उन्होंने शिक्षा मंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि, बीजेपी और आरएसएस ने अपनी मानसिकता दिखाते हुए ऐसे व्यक्ति को शिक्षा मंत्री बना दिया है, जिसके खिलाफ 14 मामले दर्ज हैं। जिसने अपनी गिरफ्तारी रोकने के लिए हाईकोर्ट से स्टे ले रखा है। उस पर बोलने का क्या फायदा? लेकिन कांग्रेस आगे भी कोशिश करेगी कि जल्द ही हाईकोर्ट का स्टे हटे और मदन दिलावर सलाखों के पीछे हों. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली भी उनके साथ थे। टोंक पहुंचने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पीसी चीफ डोटासरा का स्वागत किया।

बिजली, पानी, नीट को लेकर भजनलाल सरकार को  भी लिया आड़े हाथ

इसके साथ ही गोविंद सिंह डोटासरा ने बिजली, पानी, नीट में धांधली समेत कई मुद्दों पर भी भजनलाल सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बिजली-पानी संकट को लेकर जनता में खलबली मची हुई है। हाल ही में नीट का पेपर आउट हुआ। पूरे देश के युवा आज गुस्से में हैं. भजनलाल सरकार पर निशाना साधते हुए डोटासरा ने कहा कि दौरे और भाषण देने के अलावा सरकार ने 6 महीने में प्रदेश में एक भी काम नहीं किया। सरकार में मुख्यमंत्री के पास जाओ तो कहा जाता है, सीएस के पास जाओ। बस यही चलता रहता है इसके साथ ही उन्होंने बिजली और पानी के संकट को लेकर आगे कहा कि कांग्रेस इस मुद्दे पर जनता के साथ खड़ी है। हम समस्याओं के समाधान के लिए सड़क से विधानसभा तक सरकार को जगाने का काम करेंगे। वहीं, प्रदेश की पांच विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर डोटासरा ने कहा कि पांचों सीटें भारत गठबंधन की हैं और हम पांचों सीटों पर जीतेंगे, इन सीटों पर हमने कमेटियां बना दी हैं।

राजस्थान का दुर्भाग्य है कि शिक्षा मंत्री अपराधी प्रवर्ति का है-  टीकाराम जुली

इसके साथ ही कोटा में कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने प्रदेशाध्यक्ष के साथ मौजूद नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली ने भी इस दौरान मीडिया से बात की। साथ ही कहा कि राजस्थान का दुर्भाग्य है कि सबसे महत्वपूर्ण विषय शिक्षा मंत्री का है। यह एक ऐसे व्यक्ति को बनाया है जो आपराधिक प्रवृत्ति का है। जो हर दिन अपना बयान बदलता है और कुछ भी बोल देता है। वही टीकाराम जूली ने प्रदेश में बिजली और पानी के संकट पर सरकार पर विफलता का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस जनता के साथ खड़ी है। जूली ने उपचुनाव में प्रदेश की सभी पांचों सीटों पर जीत का दावा किया है।

राजस्थान की 5 सीटों पर होगा उपचुनाव

बता दें कि इस बार का लोकसभा चुनाव 5 विधायकों ने लड़ा था। लोकसभा चुनाव में हनुमान बेनीवाल, हरीश मीणा, राजकुमार रोत, मुरारी लाल मीणा, बृजेंद्र ओला की जीत हुई। हनुमान बेनीवाल खींवसर से, हरीश मीणा देवली से,  राजकुमार रोत चौरासी से, मुरारी लाल मीणा दौसा से और झुंझुनूं  से बृजेंद्र ओला अब जनता की आवाज लोकसभा में पहुंचाएंगे।

दिलावर ने आदिवासी समुदाय पर यह दिया था बयान

बता दें कि बीते दिनों बांसवाड़ा के नवनिर्वाचित सांसद राजकुमार रोत ने एक मीडिया को इंटरव्यू देते हुए बड़ा बयान दिया। इसमें उन्होंने कहा कि आदिवासी जाति हिंदू नहीं हैं। इस बयान को लेकर राजकुमार रोत सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल भी हुए। इधर, शिक्षा मंत्री मदन दिलावर से इस मामले को लेकर सवाल पूछा, तो उन्होंने तंज कसते हुए राजकुमार रोत से कहा कि यदि वह हिंदू नहीं है, तो उनका डीएनए टेस्ट करवा लेंगे। मीडिया से बातचीत के दौरान दिलावर ने कहा कि BAP नेता खुद को हिंदू नहीं मानते हैं। इस पर आपत्ति जताते हुए दिलावर ने कहा कि जो पार्टी देश, समाज को तोड़ने की गतिविधियां शुरू करें। उन्हें किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जो लोग खुद को हिंदू नहीं मानते हैं, हमारे यहां कुछ लोग वंशावली देखते हैं, उनसे भी चेक करवाया जाएगा।

सांसद रोत ने भी कहा मंत्री को मानसिक जांच की जरुरत है

इधर, शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के डीएनए टेस्ट कराने के बयान के बाद सांसद राजकुमार रोत ने भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री को अपनी मानसिक जांच की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार पद पर बैठे राजस्थान के शिक्षा मंत्री को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती है। इस दौरान राजकुमार रोत ने शिक्षा मंत्री से पूछते हुए कहा कि पहले यह बताइए 6 महीनों में शिक्षा मंत्री रहते हुए अपने आदिवासी इलाके में शिक्षा को लेकर क्या-क्या काम किया? आप जिस समाज से आते हैं उसके लिए और आदिवासियों के लिए आपने कुछ नहीं किया है। सांसद रोत ने निशाना साधते हुए कहा कि आपको आदिवासी समाज आने वाले समय में करारा जवाब देगा।

शिक्षा मंत्री दिलावर सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल

आदिवासी समुदाय के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के बाद दिलावर का सोशल मीडिया पर जमकर विरोध किया जा रहा हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया यूजर्स शिक्षा मंत्री दिलावर को जमकर ट्रोल कर रहे हैं। उनके खिलाफ #मदन_दिलावर_मुर्दाबाद शीर्षक जमकर पोस्ट की जा रही हैं। इन पोस्ट में सोशल मीडिया यूजर्स दिलावर पर तरह-तरह की कड़ी प्रक्रिया देते हुए अपना विरोध जता रहे हैं। इस दौरान ट्राइबल आर्मी आईडी ने लिखा कि ‘राजस्थान के शिक्षामंत्री @madandilawar ने संघी घृणित मानसिकता रखकर जिस प्रकार का शर्मनाक बयान दिया है। इससे आदिवासियों में भयंकर आक्रोश है। मंत्री जी, ने अगर माफी नहीं मांगी, तो समाज ईट का जबाव पत्थर से देगा।#मदन_दिलावर_मुर्दाबाद, #मदन_दिलावर_माफी_मांगों, #आदिवासी_हिंदू_नहीं_हैं

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments